फायर आर्म्स बनाकर बेचने वाला सिकलीगर, क्राईम ब्रांच इन्दौर के हत्थे चढ़ा।

0
91

पुलिस मुख्यालय भोपाल द्वारा जारी किये गये अभियान ‘‘ आग्नेय शस्त्रों के विरूद्ध विशेष अभियान दिनांक 15.09.2019 से 15.10.2019 तक ‘‘ के तहत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक इंदौर (शहर) श्रीमती रूचिवर्धन मिश्र द्वारा अवैध हथियारों की खरीद/फरोख्त व तस्करी करने वाले आरोपियों की धरपकड़ कर उन पर विधिसंगत कार्यवाही करने इंदौर पुलिस को निर्देशित किया गया था। उक्त निर्देशो के पालन में पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) श्री सूरज वर्मा के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (अपराध) श्री अमरेन्द्र सिंह द्वारा क्राईम ब्रांच की टीमों को इस बिन्दु पर योजनाबद्ध तरीके से कार्यवाही करने हेतु समुचित दिशा निर्देश दिये गये थे।

संपादक मोहम्मद अंसार

क्राईम ब्राँच इंदौर की टीम को मुखबिर तंत्र के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई थी कि थाना कोतवाली क्षेत्र मे एक व्यक्ति अवैध हथियारों खेप, बेचने के लिये घूम रहा है। सूचना पर क्राईम ब्राँच की टीम ने थाना कोतवाली पुलिस के साथ संयुक्त कार्यवाही करते हुऐ थाना कोतवाली क्षेत्रांतर्गत वेयर हाउस रोड पर पावर हाउस के सामने से सिकलीगर के जैसे दिखने वाले एक संदेही व्यक्ति को पकड़ा जिसने अपना नाम, जौहर उर्फ अशोक पिता मेहरसिंह टकराना, सिकलीगर, उम्र 25 साल निवासी उण्डी खोदरी पंचायत पलसुद तहसील राजपुर जिला बड़वानी का होना बताया। आरोपी की मौके पर संदेह के आधार पर तलाशी लेने पर उसके कब्जे से 07 अवैध देशी कट्टे 12 बोर के तथा 01 कारतूस बरामद हुआ। आरोपी के विरूद्ध अवैद्य हथियारों की तस्करी के संदंर्भ में थाना सेंट्रल कोतवाली में अपराध क्रमांक 236/19 धारा 25,27 आर्मस एक्ट के तहत पंजीबद्द किया गया है।

आरोपी जोहर उर्फ अशोक पिता मेहरसिंह ने प्रारंभिक पूछताछ मे बताया कि वह ताला चाबी बनाने का काम करता है तथा बचपन से ही पिस्टल एवं अन्य प्रकार के आग्नेय शस्त्रों को बनाने की जानकारी रखता है। विगत 02 माहों से उसने ताला चाबी की आड़ में हथियार बनाकर अपराधिक किस्म के लोगों को सप्लाय करना बताया। आरोपी ने बताया कि फोन पर तय हुये सौदे के अनुसार वह खुद ही लोगों तक हथियार पहुँचाने का काम करता था। इस प्रकार क्राईम ब्रांच की टीम को सिकलीगर जौहरसिंह को गिरफ्तार कर उससे 07 हथियार तथा 01 कारतूस बरामद करने में सफलता मिली है।

Previous articleअतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री वरुण कपूर के निर्देशन में 3 साल पुराने हत्या के केस को सुलझाया।
Next articleइंदौर में अवैध रूप से सट्टा संचालित करने वाले तीन आरोपी को क्राइम ब्रांच इंदौर ने किया गिरफ्तार।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here